किशोर राणा :  कहते है प्यार अंधा होता है और प्यार में अक्सरहाँ प्रेमी और प्रेमिका कुछ भी कर गुजरने को तैयार हो जाते है। फेसबुक पर दोस्ती के बाद प्यार परवान चढ़ा फिर शादीशुदा जिंदगी तोड़ प्रेमी संग फरार हुई प्रेमिका। Hazaribagh के दोनो परिवारों के रजामंदी के बाद प्रेमी प्रेमिका का विवाह हुवा। जी हां हम बात कर रहे है Hazaribagh के चौपारण प्रखण्ड के पिपरा के 23 वर्षीय एक युवक का और बरकठा प्रखण्ड के बेडोकलां की 20 वर्षीय एक युवती का।

Hazaribagh की प्रेमी युगल का सोशल मीडिया से प्यार चढ़ा परवान

दोनो की दोस्ती सोशल मीडिया के फेसबुक फ्लेटफ़ॉर्म पर होता है। महज सात से आठ महीने का का दोस्ती धीरे धीरे प्यार में तब्दील हो गया। नम्बर आदान प्रदान हुवा फिर बातें शुरू हो गया। इस दौरान दोनों एक दूसरे को अच्छे तरीके से जानने व पहचानने लगे व मुलाकातों का दौर शुरू हो गया। बताया जाता है कि लकड़ी के घर वालों को इसकी भनक लगी और लड़की का विवाह कोडरमा जिला अंतर्गत मरकच्चो प्रखण्ड के दसरो गांव में अब से तीन महीने पहले कर दिया। प्रेमी को शादी नागवार गुजरा और प्रेमिका पर प्यार में धोका देने का आरोप लगाने लगा। प्रेमिका का शादी भले ही हो गया हो लेकिन उसका दिल अपने प्रेमी के लिए धड़क रहा था। जीवकोपर्जन के लिए मुम्बई में मजदूरी कर रहे प्रेमी ने निर्णय लिया कि अपनी प्रेमिका को गांव से भगाकर मुम्बई ले आएगा जहां दोनो अपना जीवन यापन एक दूसरे के साथ करेंगे। बीते एक दिन पूर्व प्रेमी मुम्बई से सीधे अपनी प्रेमिका का मायके बेड़ोकलां पहुँच प्रेमिका को ले भागा।

घर वालों ने शुरु की खोजबीन

घर वालो को भनक लगने के बाद खोजबीन शुरू किया और इसकी सूचना बरकठा पुलिस को भी दे दिया। खोजबीन के दौरान दोनो तिलैया रेलवे स्टेशन में दिख गए। परिजनों को देखकर दोनो पास स्थित गायत्री मंदिर छिपकर, शादी करने की तैयारी में जुटे गए तब तक घर वाले पहुंच गए और दोनो को बरकठा पुलिस को सौंप दिया। पुलिस के समक्ष दोनो प्रेमी प्रेमिका ने एक दूसरे के साथ रहने की बात कही। Hazaribagh के दोनो परिजनों के सहमति और सामाजिक पहल पर बरकठा के स्थानीय मंदिर में विवाह कर दिया गया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here