झारखंड कांग्रेस ने अपने ज्यादातर जिलाध्यक्षों को बदलने की तैयारी की है। खास नेताओं की पसंद और नापसंद से अलग वैसे नेताओं को मिलेगा मौका जो संगठन की कसौटी पर खरे उतरे। इसी महीने नए अध्यक्षों की घोषणा होने वाली है।

जिला कांग्रेस कमेटियों में बड़े पैमाने पर बदलाव की तैयारी प्रदेश कांग्रेस ने की है। ऐसे में अधिकांश जिलाध्यक्षों की उल्टी गिनती आरंभ हो गई है। जानकारी के मुताबिक वर्तमान जिलाध्यक्षों में से ज्यादातर अपने पद से हटा जाएंगे। उनके स्थान पर नए चेहरों को मौका दिया जाएगा।

 

प्रदेश कांग्रेस में 25 सांगठनिक जिले हैं। खास बात यह है कि पूर्व में बड़े नेताओं की पसंद और नापसंद का जिलाध्यक्षों की चयन में खासा प्रभाव होता था। अब ऐसे नेताओं का हस्तक्षेप कतई नहीं होगा। वैसे ही लोगों को जिलाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी जो संगठन के मानकों पर खरे उतरे हैं।

 

राजनीतिक समझ से लेकर संगठन में उनके सहयोग का भी ध्यान रखा जाएगा। वैसे लोग चयनित हो सकते हैं जो पूर्व में एनएसयूआइ, युवा कांग्रेस समेत अग्रिम संगठनों से जुड़े रहे हैं। नए जिलाध्यक्षों की नियुक्ति की प्रक्रिया इसी माह पूरा किए जाने की प्रबल संभावना है।

 

 

 

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here